Follow by Email

Saturday, 30 July 2011

जमीर

 
जमीर के बाजार में , अमिरो की कोई हैसियत नही होती ...
दिल किसी को देने वाले की, नियत खराब नही होती ...
आयीने तो सभी बेचा करते है, दुनिया के बाजार में ...
अन्धोकी की बस्ती में तो ,उसकी कोई किमत नही होती ...


@राम मोरे/३००७२०११/०८४३स.

No comments:

Post a Comment